more

Friday, 19 July 2013

मॉनसून में सेहत में लाएं बहार

Monsoon
मॉनसून में सेहत में लाएं बहार
मानसून अपनी दस्तक दे चुका है जिसके चलते स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं पैदा हो जाती हैं। इसलिए जरूरी है कि इस मौसम के दौरान खानपान पर समुचित ध्यान दिया जाए। बारिश के सीजन में बैक्टीरिया और विभिन्न प्रकार के वाइरस खाद्य पदार्र्थो को संक्रमित कर देते हैं। इस कारण कई बीमारियां सिर उठाने लगती हैं। इसलिए बीमारी से बचने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को इस मौसम में खानपान के संदर्भ में समुचित जानकारी होनी चाहिए।
मॉनसून में बीमारियों में सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाली बीमारी है गैस्ट्रोइंटेराइटिस। यह बीमारी प्रदूषित पानी के कारण होती है। इसका दूसरा बड़ा कारण है अनहाइजीनिक तरीके से खाद्य पदार्र्थो को रखना। इस दौरान बाजार में मिलने वाले खाद्य पदार्थ खासतौर पर जो खुले में रखे हों, उनसे परहेज करें, क्योंकि इन पदार्र्थो में मक्खियां मंडराती रहती हैं, जो संक्रमण का कारण बनती हैं। मौजूदा मौसम में आंतों में संक्रमण होने का भी खतरा रहता है।
इन बातों का रखें ख्याल
मेदांता हॉस्पिटल की सीनियर फिजीशियन डॉ. सुशीला कटारिया का कहना है कि मॉनसून के दौरान खानपान संबंधी कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखे
-अपने रोज के भोजन में दालों और अंकुरित अनाजों को शामिल करें। इन्हें चाट के रूप में, रोल के रूप में और सैंडविच में भरकर प्रयोग करें। इन खाद्य पदार्र्थो में बड़ी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। इसके अलावा बाजार में मिलने वाली सब्जियों की तुलना में दालों और अंकुरित अनाजों से संक्रमण होने की आशंका काफी हद तक कम हो जाती है। दालों में प्रोटीन के अलावा फाइबर, कैल्शियम और आयरन भी पाया जाता है और जब इन्हें अंकुरित कर लिया जाता है तो इनसे मिलने वाले पोषक तत्व दोगुने हो जाते हैं।
-सब्जियों को पकाने से पहले अच्छी तरह साफ कर लें। इन्हें फ्रिज में रखने से पहले भी अच्छी तरह धोकर व सुखाकर रखें।
-अपने आहार में कड़वी सब्जियों जैसे करेला, ह‌र्ब्स जैसे कि मेथी के बीजों को भी शामिल करें। यह संक्रमण की रोकथाम में सहायक हैं।
- खाना उतना ही बनाएं जितना कि रोज प्रयोग हो जाए। ज्यादा खाना बनाकर फ्रिज में रखने से बचें। ताजा भोजन सेहत का अच्छा साथी होता है।
-आमतौर पर मॉनसून के मौसम में लोग स्वाभाविक तौर पर कम पानी पीते हैं, लेकिन यह बात याद रखें कि इस मौसम में मेटाबॉलिज्म के स्तर को बेहतर बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी है। इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए गुनगुने पानी में तुलसी की पत्तियां और जीरा डालकर पिएं।
- घर पर तैयार किए गए सब्जी के सूप में पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो इस मौसम में शरीर के लिए लाभप्रद होते हैं।
- सूप में लहसुन का पेस्ट या उसे कुचलकर मिलाएं। इससे शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है।
द्य अपने खानपान में हाई फाइबर से युक्त अनाजों जैसे नचनी (रागी), ज्वार, बाजरा, क्विनोआ, दलिया, दरदरा गेहूं को प्रतिदिन के आहार में शामिल करें। इनसे खानपान में संतुष्टि प्राप्त होगी और बेवजह अड़ंग-बड़ंग नहीं खाया जाएगा।
- इस मौसम में ग्रीन टी का इस्तेमाल करना चाहिए। ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो खांसी और सर्दी की रोकथाम में सहायक हैं।